रावण के भाई कुंभकर्ण से जुडी कुछ रोचक बातें

लंकापति रावण के भाई को घर के बारे में बता रहे हैं। आपको कुंभकरण से जुड़ी कुछ रोचक और अनसुनी बातें जब कुंभकरण को ब्रह्मा जी ने दिया था। 6 महीने सोने का भराव ब्रह्मा जी को प्रसन करने के लिए कठोर तपस्या कर रहे हैं।

तीनों भाइयों की कठोर तपस्या से प्रसन्न होकर शर्मा जी के सामने प्रकट में रावण विभीषण की इच्छा अनुसार वह स्थान देकर उपकरण के पास पहुंचे। पहले तो ब्रह्मा जी उनको वरदान देने से पहले ही बहुत चिंतित थे। रामदेव की चिंता का कारण यह था कि यदि को भरपेट भोजन करेगा।

जल्दी ही पूरी सृष्टि नष्ट हो जाएगी। इसी कारण के कारण सलमान खान रावण का भाई कुंभकरण कुंभकरण के समझाने पर भी रावण प्रभु श्री राम से युद्ध करने की बात को नहीं मांगा तो कांग्रेस ने अपने भाई रावण का मान रखने के लिए वह युद्ध के लिए तैयार हो गया था।श्री विष्णु के अवतार हैं और उन्हें युद्ध में पराजित कर पाना असंभव है।

मूवी में चला गया। श्री राम चरित्र मानस के अनुसार कुंभकरण प्रभु श्री राम के द्वारा मुक्ति पाने के भाव को मन में रखकर श्री राम के समक्ष उनसे युद्ध करने गया था। उसके मन में श्री राम के प्रति अनन्य भगवान का मान सिंह ने अपना सिद्धांत दिया और उसकी मृत्यु हो गई और उसका जीवन उम्मीद करता हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *